क्राइम स्टेटमेंट रोको तो रुकेगा क्राइम


हिसार जिले में अपराध इस समय अपने चरम पर है. कभी कहीं गोलीकाण्ड को अंजाम दिया जा रहा है तो कही फिरौती की एवज में व्यापारियों की हत्या हो रही है. जबकि लोग लूटपाट की वारदातों से सहमे हुए है. उधर पुलिस की नाकामी यह है की वो किसी भी मामले में अपराधी को पकड़ने में अपने को असहज महसूस कर रही है. अपनी इस नाकामी को जनता से छुपाने के लिए पुलिस ने एक नया तरीका इजाद किया है. अभी तक जो पुलिस विभाग अपनी पीठ थपथपाने के लिए मिडिया को क्राइम स्टेटमेंट जारी किया करता, वो बंद कर दी गई है. उल्लेखनीय है की पुलिस अधीक्षक कार्यालय से मिडिया के लिए प्रतिदिन एक क्राइम स्टेटमेंट जारी हुआ करता. जिसमे प्रतिदिन का लेखा-जोखा हुआ करता की आज पुलिस ने कितने मामले दर्ज किये और कितने अपराधी पुलिस की गिरफ्त में आये. लेकिन बीते कुछ अरसे से एकाएक अपराधो में हुई बढ़ोतरी के कारण पुलिस अधीक्षक ने यह क्राइम स्टेटमेंट जारी करने पर रोक लगा दी है. उनका कहना है की अगर पुलिस विभाग कोई जरुरत समझेगा तो पत्रकारों को कार्यालय में ही बुला लिया जायेगा या प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी जाएगी.
इसका एक कारण यह भी माना जा रहा है की आज जिले में अपराध तो दिन के तापमान की तरह बढ़ता जा रहा है लेकिन अपराधी शाम के तापमान की तरह कम नहीं हो रहे है. बढ़ते अपराध पर पुलिस अधीक्षक की झुंझलाहट इस बात से साफ़ झलकती है की जब हांसी में देवराज लोहिया की हत्या के एक सप्ताह बाद ही हिसार के एक व्यापारी से 10 लाख की फिरौती मांगने के मामले पुलिस अधीक्षक मौके पर पहुंचे तो फोन पर साहब ने पत्रकारों को बताया की मैं तो यहाँ रूटीन दौरे पर आया हूँ. मुझे नहीं पता था की यहाँ किसी से फिरौती मांगी गई है.
पूरे लाव-लश्कर के साथ मौके पर पहुंचे पुलिस अधीक्षक के मुहं से यह बात सुन लोग अचरज में पड़ गए. उधर पुलिस अधीक्षक ने सभी पुलिस अधिकारियो को सख्त आदेश जारी किये है की पत्रकारों को अपराध व् अपराधियों के बारे में किसी भी तरह की कोई जानकारी नहीं दी जाएगी. साथ ही उन्होंने कहा है की अगर ऐसा किया गया तो पुलिस अधिकारी के खिलाफ कार्यवाही भी की जा सकती है. लेकिन यह सोचने वाली बात अवश्य है की क्या क्राइम स्टेटमेंट रोकने से जिले में अपराध रुक जायेगा.

Related Articles :


Stumble
Delicious
Technorati
Twitter
Facebook

2 आपकी गुफ्तगू:

Ravi said...

Bahut aacha hai ! Lekin yehi haal Hissar ke alawa Rohtak ka bhi hai.
--Ravi Malik, Rohtak

Satish said...

khisyani billy khamba noche

Post a Comment

अंग्रेजी से हिन्दी में लिखिए

तड़का मार के

* महिलायें गायब
तीन दिन तक लगातार हुई रैलियों को तीन-तीन महिला नेत्रियों ने संबोधित किया. वोट की खातिर जहाँ आम जनता से जुड़ा कोई मुद्दा नहीं छोड़ा वहीँ कमी रही तो महिलाओं से जुड़े मुद्दों की.

* शायद जनता बेवकूफ है
यह विडम्बना ही है की कोई किसी को भ्रष्ट बता रह है तो कोई दूसरे को भ्रष्टाचार का जनक. कोई अपने को पाक-साफ़ बता रहे है तो कोई कांग्रेस शासन को कुशासन ...

* जिंदगी के कुछ अच्छे पल
चुनाव की आड़ में जनता शुकून से सांस ले पा रही है. वो जनता जो बीते कुछ समय में नगर हुई चोरी, हत्याएं, हत्या प्रयास, गोलीबारी और तोड़फोड़ से सहमी हुई थी.

* अन्ना की क्लास में झूठों का जमावाडा
आज कल हर तरफ एक ही शोर सुनाई दे रहा है, हर कोई यही कह रहा है की मैं अन्ना के साथ हूँ या फिर मैं ही अन्ना हूँ. गलत, झूठ बोल रहे है सभी.

* अगड़म-तिगड़म... देख तमाशा...
भारत देश तमाशबीनों का देश है. जनता अन्ना के साथ इसलिए जुड़ी, क्योंकि उसे भ्रष्टाचार के खिलाफ यह आन्दोलन एक बहुत बड़ा तमाशा नजर आया.
a
 

gooftgu : latest news headlines, hindi news, india news, news in hindi Copyright © 2010 LKart Theme is Designed by Lasantha